पत्रकार एक्सीडेंटः दर्जन भर गांवों ने किया मतदान बहिष्कार का ऐलान

एनटी न्यूज / बलरामपुर / सौरभ मिश्र

पत्रकार के एक्सीडेंट मामले पर पर्दा डालने का आरोप लगा रहे उतरौला तहसील क्षेत्र के ग्रामीणों ने प्रदर्शन कर अपनी मंशा साफ कर दी है कि अब यदि उक्त मामले पर उचित कार्यवाही न हुई तो मतदान बहिष्कार किया जाएगा.

पत्रकार का एक्सीडेंट करने वाले ट्रैक्टर-ट्रॉली को निजी लाभ व दबाव के चलते कोतवाल ने छोड़ा

इन गांवों ने किया ऐलान

उतरौला तहसील के रामवापुर खुर्द, पनवापुर, अमारेभरिया, भगनाजोत, नन्दमहरा, भिठौढ़ी सहित दर्जन भर गांव के लोगों ने मतदान बहिष्कार का ऐलान कर दिया है.

समाजसेवी राजन पांडेय ने किया फैजाबाद सीट पर सादगीपूर्ण नामांकन

पत्रकार का संदिग्ध स्थितियों में हुआ था एक्सीडेंट

ग्रामीणों की मानें तो उतरौला विधायक राम प्रताप वर्मा के सह पर कोतवाल उतरौला अवधेश राय द्वारा पत्रकार राहुल पांडेय के संदिग्ध परिस्थितियों में एक्सीडेंट मामले पर पर्दा डाला जा रहा है. इसलिए दर्जन भर गांवो के लोग कोतवाल पर विभागीय जांच व बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं.

वहीं परिजनों ने विधायक पर पत्रकार को जान से मारने की साजिश बताया है.

मुंबई की रेडियो इंडस्ट्री में यूपी के हर्षित का बोलबाला

कोतवाल पर सबूत मिटाने का आरोप

ग्रामीणों ने ‘न्याय नहीं तो वोट नहीं’ के नारे लगाए साथ ही कोतवाल पर यह आरोप लगा रहे हैं कि उन्होंने सबूत मिटाये हैं जिससे किसी भी प्रकार की कार्यवाही न हो सके. इस बीच प्रशासन मूक दर्शक बना रहा.

जिला पंचायत सदस्य संग ग्रामीणों ने खोला मोर्चा

जिला पंचायत सदस्य चंद्रप्रकाश पांडेय के नेतृत्व में ग्रामीणों ने मार्च निकाला. मार्च में प्रधान प्रतिनिधि विश्वनाथ पांडेय, अशोक पांडेय, सतीश पांडेय, मालू और संतराम सहित सैकड़ों की संख्या में महिलाएं भी शामिल रहीं.

बजरंग बली नाम लेने पर प्रतिबंध के बाद उन्हीं की शरण में सीएम योगी