बिग न्यूजः यूपी के बागपत में कच्चा तेल मिलने के संकेत, खुदाई शुरू

एनटी न्यूज / बागपत / लखनऊ डेस्क

यूपी के जनपद बागपत में कच्चे तेल के बड़े भंडार होने के संकेत मिले हैं. सैटेलाइट के माध्यम से कच्चे तेल के भंडार बागपत जिले के किरठल क्षेत्र में होने की खोज की गई है. ओएनजीसी की टीम ने खुदाई कर तीन किलोमीटर के इलाके की जांच शुरू कर दी है. वहीं कोलकाता से ओएनजीसी की टीम यहां पहुंच चुकी है. बताया जा रहा है कि दो हजार फीट से ज्यादा गहराई तक खुदाई कराई जा सकती है.

कैप्टन कूल के गुस्से के बाद क्या बोले दिग्गज

किरठल में होगी तेल की खोज

रमाला थाना क्षेत्र के गांव किरठल में जमीन के अंदर तेल की खोज की जाएगी. सेटेलाइट से तेल की संभावना मिलने के बाद ओएनजीसी की टीम किरठल पहुंची और खेत के कुछ हिस्से में गेहूं की कटाई करावायी. करीब 17 बीघा खेत को चिन्हित किया गया है. तीन दिन बाद टीम यहां पर बोरवेल करेगी, जिससे पता चल सके. तेल की खोज का जिले में यह पहला मामला है.

जलियांवाला बाग कांडः मेरी प्रतिज्ञा पूरी, अब चाहे फांसी पर लटका दिया जाय

करीब 17 बीघे जमीन की गयी चिन्हित

किरठल गांव के किसान बाबूराम ने बताया कि दो दिन पहले ओएनजीसी की टीम उनके घर पहुंची थी. किसान को जानकारी दी कि सेटेलाइट से उसके खेत में तेल होने का अनुमान लगाया जा रहा है. शुक्रवार को टीम किसान को लेकर खेत में पहुंची. खेत में खड़ी गेहूं की फसल को कटवाया गया. टीम ने करीब 17 बीघा खेत चिन्हित किया है.

भीषण सड़क हादसे में तीन की मौत, दर्जनों घायल

95 प्रतिशत संभावना

यहां पर तीन दिन बाद बोरवेल किया जाएगा. जिससे सही स्थिति का पता चल सके. बाबूराम ने बताया कि टीम ने तेल या गैस निकलने की 95 प्रतिशत संभावना जताई है. तीन दिन बाद टीम फिर से आएगी. बताया गया कि इसके अलावा आसपास के खेतों में भी जांच की जाएगी. ग्राम प्रधान सुदेश ने भी टीम के आने की पुष्टि की है. खेत में जमीन के अंदर तेल का अनुमान लगाया जा रहा है. गांव के लोग भी मौके पर पहुंच गए.

भए प्रगट कृपाला दीनदयाला कौशल्या हितकारी

सैंपल लेकर लौटी ओएनजीसी टीम

दिल्ली से पहुंची टीम शुक्रवार को दिनभर गांव में जमा रही. यहां पर जमीन से सैंपल लिया गया और इसके बाद अधिकारी वापस दिल्ली लौटे.

170 फीट नीचे विस्फोट कर लिया गया सैंपल

शुक्रवार को टीम ने जमीन में करीब 170 फीट बोर किया. इसके बाद विस्फोट करके सैंपल लिया. अगर तेल होने का सबूत मिलता है तो खेत में बोरवेल कर तेल निकालने का काम किया जाएगा. फिलहाल आसपास के लोगों को खेत में जाने से मना कर दिया गया है.

पश्चिम यूपी की राह नहीं आसान, गठबंधन की सहारनपुर रैली का रहेगा कितना असर

साभारः अमर उजाला