जन्म लेने वाले बच्चों के चेहरे पर खुशहाली लाने का कार्य अभिनन्दनीय : योगी आदित्यनाथ

एनटी न्यूज डेस्क

लखनऊ। समाज और राष्ट्र को सशक्त बनाने में हर व्यक्ति, वर्ग, संस्था की भूमिका है। सभी को राष्ट्र निर्माण के कार्य में योगदान करना चाहिए। समाज के हर व्यक्ति द्वारा जिम्मेदारी के भाव से अपने दायित्वों का निर्वहन करने पर राष्ट्र तेजी से सशक्त होगा।

सीएम योगी ने 5-कालिदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास पर  ‘स्माइल मशाल ज्योति’ आशीर्वाद कार्यक्रम का शुभारम्भ के दौरान ये बात कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘स्माइल ट्रेन‘ ऐसे साधनहीन व्यक्ति जो यह नहीं जानता कि जन्मजात विकृत होंठ और तालू के उपचार की व्यवस्था उपलब्ध है, उस तक पहुंचकर उपचार उपलब्ध कराना, इस अभियान का मानवीय पक्ष है। स्माइल ट्रेन और उससे जुड़े चिकित्सकों का कटे होंठ और तालू के साथ जन्म लेने वाले बच्चों के चेहरे पर खुशहाली लाने का कार्य अभिनन्दनीय है। समुचित उपचार हो जाने से विकृत होंठ और तालू के साथ जन्म लेने वाले बच्चों का आत्मविश्वास वापस आता है और उनका भविष्य उज्ज्वल बनता है।

– यह अभियान देश के भविष्य को उज्जवल बनाने का अभियान

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह अभियान देश के भविष्य को उज्ज्वल बनाने का अभियान है। ऐसे कार्यों से राष्ट्र सशक्त बनता है।

उन्होंने कहा कि यह एक बड़ा अभियान है। ऐसे अभियानों के साथ समाज के बड़े वर्ग के जुड़ जाने से जनआन्दोलन बन जाता है। जब कोई अभियान जनआन्दोलन बन जाता है तो, वह सफलता की नई ऊंचाइयां हासिल कर लेता है।

– ऐसी स्वयंसेवी संस्थाओं का पूरा सहयोग करेगी राज्य सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि चिकित्सक और मरीज के बीच एक भावनात्मक संवाद होना चाहिए। वर्तमान व्यावसायिकता के दौर में यह संवाद कम हुआ है। साधनहीन व्यक्तियों के चेहरे पर खुशहाली लाने वाले ऐसे कार्यक्रम चिकित्सक के भावनात्मक और संवेदनशील पक्ष को सामने लाते हैं।

उन्होंने आश्वस्त किया कि राज्य सरकार इस प्रकार के किसी भी स्वयंसेवी कार्य को पूरा सहयोग प्रदान करेगी।

– संस्था जन्मजात विकृत बच्चों का कर रही है निःशुल्क इलाज

मुख्यमंत्री ने कहा कि कार्यक्रम के दौरान ‘स्माइल मशाल ज्योति’ प्रज्ज्वलन किया। कार्यक्रम के पश्चात उन्होंने गुब्बारे उड़ाकर ‘स्माइल मशाल ज्योति’ को रवाना किया। ‘स्माइल मशाल ज्योति’ कार्यक्रम अन्तर्राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य स्वंयसेवी संस्था ‘स्माइल ट्रेन’ द्वारा संचालित किया जा रहा है।

संस्था द्वारा विश्वभर में जन्मजात विकृत होंठ और तालू के मरीजों के निःशुल्क उपचार कराया जाता है। इस समस्या के उपचार के प्रति लोगों में जागरूकता तथा गतिशीलता लाने के लिए ‘स्माइल मशाल ज्योति’ कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

– 20 वर्षों में 5 लाख लोगों का कराया इलाज

स्माइल ट्रेन परियोजना की वाइस प्रेसिडेंट और रीजनल डायरेक्टर एशिया सुश्री ममता कैरल ने कहा कि स्माइल ट्रेन द्वारा विगत 20 वर्षों में देश में 05 लाख से अधिक विकृत होंठ और तालू की समस्या से ग्रस्त लोगों का उपचार कराया गया है। ‘स्माइल मशाल ज्योति’ वाराणसी से शुरू होकर पूरे देश की यात्रा कर रही है। इसका उद्देश्य विकृत होंठ और तालू की समस्या के उपचार के प्रति जागरूकता पैदा करना और उपचार में गतिशीलता लाना है।

 

उन्होंने बताया कि स्माइल ट्रेन द्वारा विकृत होंठ और तालू की समस्या से पीड़ित लोगों का निःशुल्क उपचार के साथ आवागमन का खर्च तथा अन्य सम्बन्धित उपचार भी उपलब्ध कराये जाते हैं। उन्होंने कार्यक्रम में सहयोग के लिए मुख्यमंत्री जी और राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के प्रति आभार भी जताया। स्माइल ट्रेन के प्रोजेक्ट डायरेक्टर डाॅ0 वैभव खन्ना ने अतिथियों का स्वागत किया तथा एरिया डायरेक्टर सुश्री रेनू मेहता ने अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर प्रदेश सरकार में  वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल, चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टण्डन, लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी, के0जी0एम0यू0 के कुलपति प्रो0 एम0एल0बी0 भट्ट सहित चिकित्सकगण एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।