जिला पंचायत अध्यक्ष का अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने को लेकर दीपक सिंह ने सरकार को घेरा

एनटी न्यूज / लखनऊ डेस्क

कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता दीपक सिंह ने रायबरेली जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने के चलते प्रशासन पर सत्ता का दबाव बताते हुए प्रेसवार्ता की. प्रेसवार्ता के दौरान उन्होंने ये बातें कहीं—-

जिन खिलाड़ियों ने 2011 वर्ल्ड कप जिताया वो 11 क्रिकेटर आज कहां हैं!

दीपक सिंह ने रायबरेली जिला पंचायत के पुनर्मतदान को लेकर की प्रेसवार्ता

  1. कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता दीपक सिंह ने शनिवार को प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेसवार्ता के माध्यम से सरकार पर आरोप लगाया है कि वह रायबरेली के जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह को बचाने का प्रयास कर रही है एवं अधिकारी अपने कर्तव्यों का निर्वहन नहीं कर रहे हैं.
  2. सिंह ने सरकार से मांग की है कि रायबरेली के जिला पंचायत सदस्यों को 14 मई को होने वाले जिला पंचायत अध्यक्ष के विरुद्ध नियत अविश्वास प्रस्ताव पर विचार एवं मतदान में शामिल होने हेतु वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश प्रताप सिंह एवं उनके सगे बड़े भाई व रायबरेली से भाजपा के लोकसभा उम्मीदवार दिनेश प्रताप सिंह, एम.एल.सी. द्वारा एवं सत्ता के दबाव में किये जा रहे पुलिसिया उत्पीड़न से सदस्यों को सुरक्षा प्रदान किया जाये.
  3. जिला पंचायत सदस्यों पर राजनैतिक द्वेषवश जिला पुलिस द्वारा लगाये जा रहे फर्जी मुकदमों को तत्काल रोका जाय.
  4. सिंह ने कहा कि अब तक एक सप्ताह में लगभग 20 जिला पंचायत सदस्यों के विरूद्ध विभिन्न धाराओं में जनपद के विभिन्न थानों में फर्जी मुकदमें (एफआईआर) दर्ज किये गये हैं जिनकी प्रतियां संलग्न है.
  5. रायबरेली के कुल 52 जिला पंचायत सदस्यों में आधे से अधिक 31 सदस्यों द्वारा पूर्व में जिला पंचायत अध्यक्ष रायबरेली के विरूद्ध अविश्वास प्रस्ताव पारित करते हुए जिलाधिकारी रायबरेली को अविश्वास प्रस्ताव की नोटिस प्रेषित करते हुए अविश्वास प्रस्ताव पर विचार करने हेतु कई बार प्रार्थनापत्र दिया किन्तु जिलाधिकारी द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गयी. जिसके चलते सदस्यों द्वारा मा0 उच्च न्यायालय में 2 याचिकाएं दायर की गयीं थीं जिस पर मा0 उच्च न्यायालय के निर्देश पर जिलाधिकारी द्वारा आगामी 14 मई को अविश्वास प्रस्ताव पर विचार करने व मतदान हेतु मा0 उच्च न्यायालय को सूचित किया गया है.
  6. मा0 उच्च न्यायालय के निर्देश पर जिलाधिकारी द्वारा तिथि नियत किये जाने के उपरान्त स्थानीय जनपद की पुलिस द्वारा राजनैतिक प्रभाव के चलते जिला पंचायत सदस्यों पर उत्पीड़नात्मक कार्यवाही करते हुए फर्जी मुकदमें में फंसाया जा रहा है ताकि मतदान को प्रभावित किया जा सके और सदस्यगण उक्त तिथि पर मतदान में शामिल न हो सकें.
  7. एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह एवं उनके भाई वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह व राकेश प्रताप सिंह विधायक एवं उनके लोगों द्वारा सदस्यों को हर तरीके से डराने एवं धमकाने एवं जान से मारने की धमकी लगातार दी जा रही है ताकि वर्तमान अध्यक्ष के विरूद्ध मा0 उच्च न्यायालय के निर्देश पर लाये जा रहे अविश्वास प्रस्ताव में भाग न ले सकें.
  8. सिंह ने सरकार से मांग की है कि 14 को होने वाले वर्तमान जिला पंचायत अध्यक्ष के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव में मतदान हेतु अर्ध सैनिक बलों की सुरक्षा में पंचायत सदस्यों को मीटिंग हाल तक पहुंचाया जाए ताकि वह निष्पक्ष एवं स्वतंत्र होकर इस लोकतांत्रिक प्रक्रिया में शामिल हो सकें.
  9. उन्होंने कहा कि मतदान की प्रक्रिया जिला जज की मौजूदगी में ही सम्पन्न कराई जाए.

जिन खिलाड़ियों ने 2011 वर्ल्ड कप जिताया वो 11 क्रिकेटर आज कहां हैं!