कोरोना योद्धा: पूर्व ब्लाक प्रमुख इसरार अहमद एवं डॉ पुत्र शहजाद बनें जरूरतमंदों के संकटमोचन

- in अपना यूपी

एनटी न्यूज़डेस्क/श्रवण शर्मा/लखनऊ

आजमगढ़- रानी की सराय से पूर्व ब्लाक प्रमुख इसरार अहमद लगातार अपने ब्लाक क्षेत्र एवं पूरे आजमगढ़ जिले में लोगों को राशन सामग्री वितरित कर रहे हैं, उन्हें पूरे जिले से किसी भी विधानसभा किसी भी ब्लॉक क्षेत्र से सूचना प्राप्त होती है वह तुरंत लोगों की मदद करने के लिए निकल पड़ते हैं, बातचीत में उन्होंने बताया कि आजमगढ़ की जनता उनके लिए परिवार की तरह है वह उनके लिए हर संभव मदद करने के लिए तन मन धन से तैयार रहते हैं साथ ही इंसानियत को सबसे बड़ा धर्म बताते हुए उन्होंने कहा मैं किसी व्यक्ति को जाति, धर्म, ऊंच-नीच के आधार पर नहीं देखता मेरा मानना है लोगों की मदद करना ही सबसे बड़ा धर्म है।

चिकित्सक के रूप में लोगों की मदद कर रहे

साथ ही उनके डाक्टर पुत्र शहजाद अहमद जो कि लखनऊ के लोहिया अस्पताल में चिकित्सक के रूप में लोगों की मदद कर रहे हैं। उनका कहना है इस संकट काल के दौरान अगर मैं चिकित्सक होते हुए घर पर बैठ गया तो जो लोग चिकित्सकों को भगवान मानते हैं उनके साथ यह धोखा होगा। मेरे पिता जो राजनीति से संबंध रखते हैं उन्होंने मुझे सदैव जनहित में कार्य करने के लिए प्रेरणा दी है और मैं अपने पिता के दिखाए हुए रास्तों पर ही चलता हूं। और जब पिताजी को लोगों की मदद करते देखता हूं तो मुझे उन पर बहुत गर्व होता है वह कोरोना महामारी के दौरान पूरे आजमगढ़ में लोगों की मदद कर रहे हैं यह मेरे लिए अत्यंत खुशी की बात है।