कोरोना का असर / बीसीसीआई ने आईपीएल को कुछ समय के लिए टाला, सितंबर में होने की पूरी संभावना; फॉर्मेट भी छोटा हो सकता है

एनटी न्यूज़डेस्क/लखनऊ 

 कोरोनावायरस और देश में 3 मई तक लगे लॉकडाउन के कारण इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) पर संकट गहरा गया है। बीसीसीआई और सभी फ्रेंचाइजी के बीच टूर्नामेंट को अनिश्चितकाल के लिए टालने पर सहमित बन सकती है। रिपोर्ट्स की मानें तो यदि कोरोना पर नियंत्रण पाया गया तो बीसीसीआई आईपीएल को सितंबर से अक्टूबर तक कराने पर विचार कर रही है। इसका फॉर्मेट भी पहले से छोटा हो सकता है। यह टूर्नामेंट पहले 29 मार्च से शुरू होना था, लेकिन कोरोना और वीजा प्रतिबंध के कारण 15 अप्रैल तक के लिए टाल दिया गया था।

सितंबर में हो सकता है आईपीएल

सितंबर में यूएई में एशिया कप टी-20 खेला जाना है। इसके बाद अक्टूबर 18 अक्टूबर से 15 नवंबर तक ऑस्ट्रेलिया में आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप भी खेला जाना है। हालांकि, एशिया कप और वर्ल्ड कप को लेकर अभी स्थिति साफ नहीं है। एशिया कप टलने की संभावना है। बीसीसीआई इन शेड्यूल को ध्यान में रखकर आईपीएल का कार्यक्रम तैयार कर सकता है। बोर्ड सूत्रों की मानें तो एशिया कप और वर्ल्ड कप होने की स्थिति में आईपीएल की संभावना नवंबर के आखिर से पूरे दिसंबर तक हो सकती है।

मानसून का खेल

भारत में मानसून सीजन 1 जून से 30 सितंबर तक होता है। हालांकि, इस पैटर्न में बदलाव देखा जा रहा है। देश के ज्यादातर हिस्सों में यह 15 जून तक ही सक्रिय हो पाता है। यही वजह है कि आईएमडी कुछ राज्यों की संभावित मानसून तारीखों में बदलाव पर विचार कर रहा है। मौसम संबंधी जानकारी देने वाली अमेरिकी कंपनी ‘वेदर’ के मुताबिक, इस बार मानसून 30 मई तक केरल के तट से टकराएगा। अल नीनो की बजाए ला नीना की स्थितियां बनेंगी। लगातार दूसरी साल सामान्य से ज्यादा बारिश होगी।

इस बार आईपीएल को भूल जाएं: गांगुली

बीसीसीआई अध्यक्ष गांगुली ने रविवार को कहा था, ‘‘हम परिस्थितियों पर नजर बनाए हुए हैं। फिलहाल की स्थिति में कुछ भी स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है। अब कोई तरीका नहीं बचा है। एयरपोर्ट बंद है, लोग घरों में कैद रहने को मजबूर हैं। सभी ऑफिस बंद हैं। कोई कहीं आ या जा नहीं सकता। यह स्थिति आधी मई तक रहने की संभावना है। ऐसी स्थिति में खिलाड़ियों को कहां से लाएंगे और उन्हें यात्रा कैसे कराएंगे। कॉमन सेंस है कि यह स्थिति दुनियाभर में किसी भी खेल के अनुसार नहीं है। आईपीएल को भूलें।’’

‘46 साल के जीवन में ऐसा अनुभव कभी नहीं किया’

गांगुली ने कहा था, ‘‘इस समय स्थिति काफी भयानक है। मैंने ऐसा अनुभव अपने 46 साल के जीवन में कभी नहीं किया है। पूरी दुनिया ने भी कभी ऐसे हालात नहीं देखे होंगे। मुझे लगता है कि कोई भी ऐसा अनुभव दोबारा नहीं करना चाहेगा। पूरी दुनिया लोग सिर्फ यही सोच रही हैं कि अगले दो हफ्ते कितने लोग और मरेंगे। यह भयावह है।’

आईपीएल रद्द करने से 3 हजार करोड़ का नुकसान

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने न्यूज एजेंसी को बताया, ‘‘आईपीएल को तत्काल प्रभाव से रद्द नहीं किया जा सकता है। इसके अनिश्चितकाल के लिए टलने की पूरी संभावना है। यदि आईपीएल रद्द होता है, तो करीब 3 हजार करोड़ रुपए का नुकसान होगा।’

नीलामी में 140.3 करोड़ रुपए में 62 खिलाड़ी खरीदे गए

इस बार आईपीएल नीलामी में 62 खिलाड़ी बिके, जिनमें 33 भारतीय और 29 विदेशी हैं। फ्रेंचाइजियों ने इन खिलाड़ियों को खरीदने में 140.3 करोड़ रुपए खर्च किए थे। ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज पैट कमिंस आईपीएल इतिहास के सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बन गए। उन्हें कोलकाता नाइटराइडर्स (केकेआर) ने 15.5 करोड़ रुपए में खरीदा। उनके हमवतन ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल को किंग्स इलेवन पंजाब ने 10.75 करोड़ रुपए में खरीदा। दक्षिण अफ्रीका के क्रिस मॉरिस 10 करोड़ रुपए में बिके, उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) ने अपनी टीम में शामिल किया।