डायबिटीज के मरीज रहें सतर्क, कोविड-19 से मरने वालों में हाई ब्लड ग्लूकोज लेवल वाले मरीज अधिक

एनटी न्यूज़ डेस्क/लखनऊ

कोरोना वायरस (कोविड-19) से डायबिटीज, दिल की बीमारियों जैसे मरीजों को खास सतर्कता बरतनी चाहिए। क्योकि एक सर्वे में यह पता चला है की डायबिटीज के मरीजों अगर कोविड-19 संक्रमित हो जाते हैं तो ऐसे मरीजों के मरने का खतरा बहुत अधिक है।


वुहान यूनिवर्सिटी के एक्सपर्ट ने पाया कि हाई ब्लड शुगर लेवल वाले मरीजों में यह संक्रमण लेने के अधिक चांस होता है। एक्सपर्ट ने बताया कि कोविड-19 से ग्लूकोज का मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। जिसे cytokine storm कहते हैं, इससे काफी सारी इम्युन सेल्स उत्पादित होती हैं।

डॉक्टर शी लियू के अनुसार

चीन की वुहान यूनिवर्सिटी के डॉक्टर शी लियू के अनुसार इम्युन सेल्स में बढ़ोतरी फेफड़ों में होती है और इसकी वजह से ही डायबिटीज के मरीज के मरने का खतरा ज्यादा होता है। दरअसल cytokine इम्युन सेल्स का एक एक्टिव कंपाउंड होता है। जब किसी मरीज को फ्लू होता है तो Cytokine की संख्या में तेजी से वृद्धि होती है। इस स्टडी को साइंस एडवांसेस में प्रकाशित किया गया है, इस स्टडी में चूहों पर परीक्षण किया गया था। रिसर्च करने के लिए फ्लू वाले मरीजों का ग्लूकोज लेवल ब्लड सैंपल की तुलना एक हेल्दी व्यक्ति के सैंपल से की गई। अतः लोगो को हर तरह से सतर्कता बरतने की जरुरत है