एक्जिट पोल के बाद आ रहे हैं असली नतीजे, पढ़िए इस बार कैसे होगी काउंटिंग!

- in Main Slide

एनटी न्यूज / लखनऊ

एक्जिट पोल तो महज एक अनुमान होता है लेकिन जो असली रिजल्ट आने हैं वो कल यानि 23 मई को आ रहे हैं. एक्जिट पोल में जो जीतते नजर आए उनकी बांछें खिल गयीं लेकिन जो हारते नजर आए उन्होंने आत्मबोध के लिए कई ऐसे एक्जिट पोलों की बात की जिनमें असली परिणामों से काफी अंतर रहा.

कांग्रेस को यूपी में मिला था तगड़ा झटका

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव परिणाम गुरुवार को आ रहे हैं. इस परिणाम के पहले राजनीतिक पार्टियों के बीच उहापोह मची हुई है लेकिन ये पहले भी साफ था कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस वापसी करने वाली नहीं है. कांग्रेस का ग्रोथ न होने का कारण ये भी है कि यहां की उन पार्टियों, जो उत्तर प्रदेश को पुश्तैनी मान चुकी हैं, ने कांग्रेस को नकारते हुए आपसी गठबंधन किया.

विश्व कप के लिए भारतीय टीम रवाना, कोहली ने टीम को लेकर कही ये बात

गठबंधन ने देखा नए प्रधानमंत्री का सपना

गठबंधन का असर ये रहा कि जिस प्रकार से बसपा प्रमुख मायावती ने तीसरे मोर्चे की चाह में चुनाव लड़ा, ठीक उसी प्रकार से गठबंधन के समर्थक भी मायावती को प्रधानमंत्री के रूप में देखते रहे. अखिलेश यादव भी मंच से ये कहते रहे कि देश को नया प्रधानमंत्री मिलने वाला है. अब चाहे जो भी रहा हो, या तो देश को नया प्रधानमंत्री मिलने वाला होगा या फिर नरेंद्र मोदी पुनः प्रधानमंत्री बनकर सत्तासीन हो रहे हों, ये गुरुवार की शाम तक स्पष्ट हो जाएगा.

कौन जीतेगा – कौन हारेगा!

मतदाताओं को जहां ये उत्सुकता रहेगी कि उनका चुना प्रत्याशी जीता या नहीं, वहीं दूसरी ओर प्रत्याशियों को भी ये उत्सुकता रहेगी कि वो जन प्रतिनिधि बन पाए या केवल प्रत्याशी ही रह गए.

लोकतंत्र का सबसे बड़ा त्योहार

इस त्योहार के लिए इस साल कुल 90 करोड़ मतदाताओं का नाम वोटर लिस्ट में रहा. यह 2014 वाले चुनाव से लगभग 7 करोड़ ज्यादा था. हालांकि देश का भविष्य तय करने में 60.39 करोड़ मतदाताओं ने भाग लिया जो अबतक के चुनावों के मतदान प्रतिशत में सबसे ज्यादा है.

चुनाव के दौरान सोशल मीडिया के लिए भदोही में भाजपा रही फिसड्डी, कांग्रेस आगे

इस बार काउंटिंग का तरीका होगा अलग

इस बार वोटों की गिनती पिछली बार के चुनावों की अपेक्षा थोड़ा अलग होगी. क्योंकि इस बार ईवीएम मशीनों के साथ वीवीपैट मशीन भी लगाई गई थीं. हर विधानसभा क्षेत्र की 5 बूथों के वीवीपैट का ईवीएम से मिलान किया जाएगा. मिलान सही होने पर उस क्षेत्र के सारे बूथों की गिनती की जाएगी.

सारे प्रत्याशियों की किस्मत ईवीएम में कैद हैं, अब देखना होगा कि नेताओं के भाग्य विधाता जनता ने कैसा जनादेश दिया है. तो इंतजार करिए चुनाव के नतीजों का और जुड़े रहिये न्यूज टैंक्स के साथ…..

यूपी में पहली बार आयोजित होगी पोस्टकार्ड पर बनी कलाकृतियों की कला प्रदर्शनी
न्यूज टैंक्स आपसे सारी अपडेट्स देने का वादा करता है.