जानिए मिराज-2000 के बारे में सबकुछ

- in Main Slide, इंटरनेशनल

एनटी न्यूज / लखनऊ डेस्क

भारतीय वायुसेना ने मंगलवार को तड़के पाक अधिकृत कश्मीर में जैश के ठिकानों पर जमकर बमबारी की. इस दौरान कई आतंकी कैंप के नष्ट होने की खबर है. भारतीय वायुसेना के 12 मिराज-2000 विमानों के समूह ने जैश के कैंप पर 1000 किलग्राम के बम गिराए. इस हमले के लिए एयरफोर्स द्वारा मिराज-2000 विमानों का चयन करना भी एक सोची समझी रणनीति का हिस्सा था.

किसानों की खुशहाली से भारत महाशक्ति बनने की राह परः डा0 चन्द्रमोहन

जानिए मिराज-2000 विमानों की खासियत-

मिराज-2000 विमान फ्रांस की कंपनी डसाल्ट एविएशन द्वारा बनाया गया है. यह वही कंपनी है जिसने राफेल को बनाया है. मिराज-2000 चौथी जेनरेशन का मल्टीरोल, सिंगल इंजन लड़ाकू विमान है. इसकी पहली उड़ान साल 1970 में आयोजित की गई थी. यह फाइटर प्लेन अभी लगभग नौ देशो में अपनी सेवाएं दे रहा है.

भारतीय एयरफोर्स ने आतंकियों को शिविरों सहित किया तबाह

हालांकि इसमें समय-समय पर अपडेशन का काम भी किया जाता रहा है. साल 2009 तक लगभग 600 से अधिक मिराज-2000 दुनिया भर में सेवारत हैं.

भारतीय वायु सेना द्वारा संचालित लगभग 51 मिराज-2000 विमानों के एक बेड़े को उन्नत करने के लिए फ्रांस से 1.9 बिलियन डालर का समझौता किया गया है. जून 2011 में यह घोषणा की गई कि सुरक्षा पर कैबिनेट समिति (CCS) ने भारतीय वायुसेना के मिराज-2000 के उन्नयन पर विचार करेगी, जिसके बाद यह समझौता किया गया था.

मथुरा के इस गांव में आज भी नहीं है बिजली, पानी और सड़क

क्रमशः…