इसरो के रिसर्चर एकेटीयू व संबद्ध फैकल्टीज को देंगे ट्रेनिंग

- in अपना यूपी, लखनऊ

एनटी न्यूज / लखनऊ

डॉ एपीजे अब्दुल कलाम प्राविधिक विवि के सेंटर फॉर एडवांस स्टडीज में मंगलवार को- एमर्जिंग टेक्नोलॉजिकल ट्रेंड्स इन माइक्रो एंड नेनो-इलेक्ट्रॉनिक्स नामक 5 दिवसीय शॉर्ट टर्म फैकल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का शुभारम्भ हुआ. शुभारम्भ सत्र में आईआईएससी बैगलोर के प्रो एसए शिव शंकर एवं टूहुकू विवि जापान के विसिटिंग फैकल्टी प्रो रंजित साईं बतौर मुख्य वक्ता उपस्थित रहे.

एकेटीयू में होगा मैनेजमेंट कैपेसिटी बिल्डिंग प्रोग्राम का आयोजन

10 शॉर्ट टर्म फैकल्टी डेवेलपमेंट प्रोग्राम होंगे

प्रोग्राम के संयोजन डॉ पियूष जैसवाल ने बताया कि यह शॉर्ट टर्म एफडीपी, एआईसीटीई और एकेटीयू के मध्य हुए करार के क्रम में आयोजित किया जा रहा है. इस तरह के कुल 10  शॉर्ट टर्म एफडीपी आयोजित किये जाने हैं उनमें यह पहला शॉर्टटर्म एफडीपी है. एफडीपी में विवि के सम्बद्ध संस्थानों के 40 शिक्षक प्रतिभाग कर रहे हैं.

सीएमएस में पॉप संगीत समारोह व कार्यशाला, बाहरी छात्र-छात्राओं का भी प्रवेश निःशुल्क

इसरो के रिसर्चर भी देंगे ट्रेनिंग

शॉर्ट टर्म एफडीपी के दौरान माइक्रो एंड नेनो-इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में हो रहे नवाचारों के विषय में जानकारी प्रदान की जाएगी साथ ही माइक्रो एंड नैनो-इलेक्ट्रॉनिक्स के क्षेत्र में विभिन्न रिसर्च गैप्स पर भी विमर्श किया जायेगा. उन्होंने कहा कि एफडीपी में अधिकांश वक्ता कानपुर आईआईटी एवं आईआईएससी बैंगलोर के हैं, जिनमें प्रो रूद्र प्रताप- आईआईएससी बैंगलोर; डॉ प्रभात द्विवेदी- आईआईटी कानपुर; डॉ संजीव श्रीवास्तव- आईआईएससी बैंगलोर, डॉ मनीष हुड्डा- इसरो शामिल हैं, जो शिक्षकों को 5 दिनों तक प्रशिक्षण प्रदान करेंगे.

यह जानकारी एकेटीयू के मीडिया प्रभारी आशीष मिश्र ने दी.

भारत ने अंतरिक्ष में हासिल की एक और ताकत, C-45 लॉन्च