दिल्ली अगर पहले ओवर में ये गलती न करती तो पहुंच सकती थी फाइनल में

एनटी न्यूज / खेल डेस्क / लखनऊ

शुक्रवार को खेले गए आईपीएल-12 के क्वालीफायर-2 में चेन्नई सुपर किंग्स के हाथों दिल्ली कैपिटल्स को हार का समाना करना पड़ा. दिल्ली की तरफ से पहले ही ओवर में एक ऐसी गलती हुई जिसने दिल्ली को फाइनल में पहुंचने से रोक लिया.

जिला पंचायत अध्यक्ष का अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने को लेकर दीपक सिंह ने सरकार को घेरा

…तो ऐसे हुआ वाकया!

दिल्ली ने चेन्नई को 147 रन का लक्ष्य दिया. इसके बाद चेन्नई की पारी की शुरुआत करने शेन वाटसन और डु प्लेसिस उतरे. दिल्ली की ओर से पहला ओवर डालने ट्रेंट बोल्ट आए. पहले ही ओवर में बोल्ट ने बड़ी गलती कर दी नहीं तो मैच का परिणाम कुछ और हो सकता था. डु प्लेसिस ने कवर की ओर एक शॉट खेला. गेंद अक्षर पटेल के हाथों में गई.

‘आप’ उम्मीदवार के बेटे का दावा, उसके पिता ने टिकट के लिए केजरीवाल को दिए 6 करोड़

अक्षर ने सूझबूझ दिखाते हुए गेंदबाज की छोर पर थ्रो फेंका. ट्रेंट बोल्ट के हाथों में गेंद गई. बोल्ट ने गलती करते हुए अपने छोर का विकेट बिखरने के बजाय बल्लेबाज की छोर पर थ्रो कर दिया. जिससे डु प्लेसिस आउट होने से बच गए.

जिन खिलाड़ियों ने 2011 वर्ल्ड कप जिताया वो 11 क्रिकेटर आज कहां हैं!

पहले विकेट के लिए जुड़े 81 रन

बोल्ट की इस गलती के बाद वॉटसन और डुप्लेसी ने मिलकर पूरे मैच का रुख ही पलट दिया. दोनों के बीच 81 रनों की ताबड़तोड़ साझेदारी हुई. पहले डुप्लेसी ने पचासा मारा और इसके बाद वॉटसन ने भी वही दोहराते हुए चेन्नई को जीत की दहलीज के करीब ला दिया.