ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज बल्लेबाज़ पर बरसे वीवीएस लक्ष्मण, बोले- IPL में दोस्ती से नहीं मिलती जगह

भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क के उस बयान पर टिप्पणी की है, जिसमें कंगारू दिग्गज ने कहा था कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने इसलिए विराट कोहली को स्लेज नहीं किया था, क्योंकि वे अच्छे बने रहकर आइपीएल का कॉन्ट्रैक्ट बचाना चाहते थे। हालांकि, अब वीवीएस ने कहा है कि अच्छे बने रहने और दोस्ती करने से किसी को आइपीएल कॉन्ट्रैक्ट मिल जाए इसस बात की गारंटी नहीं है।

ऑस्ट्रेलियाई टीम को 2015 का वर्ल्ड कप जिताने वाले कप्तान माइकल क्लार्क ने बयान दिया था कि साल 2018-19 के ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर विराट कोहली के खिलाफ कोई भी खिलाड़ी इसलिए स्लेज नहीं कर रहा था, क्योंकि वे कुछ महीने के बाद उनके साथ आइपीएल खेलने वाले थे। हालांकि, बाद में खुद कंगारू टीम के कप्तान टिम पेन ने साफ कर दिया था कि विराट कोहली कहीं अपना बेस्ट प्रदर्शन न कर दें, इसलिए उन्होंने विराट को स्लेज नहीं किया।

सिर्फ व्यवहार अच्छा होने से नहीं मिलती टीम में जगह

अब आइपीएल टीम सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटॉर वीवीएस लक्ष्मण ने कहा है, “सिर्फ अच्छा होने के कारण आपको आइपीएल में जगह नहीं मिल जाएगी। स्टार स्पोर्ट्स के शो क्रिकेट कनेक्टेड में बात करते हुए वीवीएस ने कहा, “कोई भी फ्रेंचाइजी खिलाड़ी के कैलिबर और उसकी क्षमता को देखती है कि क्या उसे टीम में होना चाहिए या नहीं, जो उन्हें मैच / टूर्नामेंट जीतकर वांछित परिणाम दे सके। यही वो ऐसी चीजें हैं, जिनकी वजह से खिलाड़ी को आइपीएल अनुबंध मिलता है। बस किसी के साथ अच्छा व्यवहार करने से आपको आइपीएल में जगह नहीं मिलेगी।”

देश के लिए 134 टेस्ट मैच खेलने वाले लक्ष्मण ने कहा है कि जब वे एक मेंटॉर के नाते ऑक्शन टेबल पर होते हैं तो वे उन खिलाड़ियों को देखते हैं, जिन्होंने अपने देश के लिए असाधारण रूप से अच्छा काम किया है। उन्होंने कहा है, “यदि आपका किसी भी भारतीय खिलाड़ी के साथ फ्रेंडशिप है तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपको आइपीएल अनुबंध मिल जाएगा। किसी भी भारतीय खिलाड़ी के साथ दोस्ती आइपीएल में प्रवेश सुनिश्चित नहीं करती है।”