योगी सरकार ने पेश किया अपना तीसरा बजट, जानिए किसको कितना मिला…

एनटी न्यूज़ / लखनऊ डेस्क

योगी सरकार ने गुरुवार को अपना तीसरा बजट पेश किया। कैबिनेट की मुहर के बाद विधानमंडल के बजट सत्र के तीसरे दिन आज योगी सरकार ने चार लाख, 79 हजार 701 करोड़, दस लाख रुपया का बजट पेश किया।

वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने कहा कि हमारी सरकार सबका साथ सबका विकास के वादे के साथ काम कर रही है। हम भ्रष्टाचार पर कोई समझौता नहीं करेंगे। वंदे मातरम् कहकर उन्होंने अपना भाषण खत्म किया।

वित्त मंत्री ने बताया कि वर्तमान बजट का आकार 4 लाख 79 हजार 701 करोड़ 10 लाख रुपये (4,79,701,10 करोड़ रुपये) है। जो कि वर्ष 2018-2019 के बजट के मुकाबले 12 प्रतिशत अधिक है। बजट में 21 हजार 212 करोड़ 95 लाख रुपये (21,212.95 करोड़ रुपये) की नई योजनाओं को शामिल किया गया है।

वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने आयुष्मान भारत के लिए 1298 करोड़ रुपये की घोषणा की। सामान्य वर्ग के लिए 850 करोड़ रुपये। स्वच्छ ग्रामीण मिशन के लिए 58 करोड़ रुपये की घोषणा की। स्मार्ट सिटी मिशन के लिए दो हजार करोड़ रुपये। कन्या सुमंगला योजना के लिए 1200 करोड़ रुपये। बाण सागर योजना के लिए 122 करोड़ रुपये की घोषणा की। डिफेंस कॉरिडोर की भूमि के लिए 500 करोड़ रुपये। मध्य गंगा नहर योजना के लिए 1727 करोड़ रुपये। मथुरा में डेरी के लिए 56 करोड़ रुपये की घोषणा।

वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने प्रादेशिक विमान सेवा के लिए 150 करोड़। पिछड़ा वर्ग के लिए 1516 करोड़। जेवर एयरपोर्ट की भूमि अधिग्रहण के लिए 800 करोड़ रुपये। किशोरी बालिका योजना के लिए 156 करोड़ रुपये के आवंटन की घोषणा की। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए 1988 करोड़ रुपये।